28.3 C
Dehradun
Wednesday, June 26, 2024
Homeअपराधसीओ से लेकर महिला सिपाही तक ने लगा दी जान, तब जाकर...

सीओ से लेकर महिला सिपाही तक ने लगा दी जान, तब जाकर 5 घंटे में बिजनौर से पकड़ा गया किडनैपर

ऋषिकेश। ऋषिकेश में एक व्यक्ति के 12 साल के बच्चे केेे किडनैपर राज मिस्त्री की तलाश में पुलिस केेे सीओ सहित महिला सिपाही के साथ 20 पुलिस कर्मियों की टीम ऐड़़ी चोटी का जोर लगा दिया। इस पर पुलिस को सफलता मिल भी गई। 5 घंटेेेे की मेहनत के  पुलिस ने बच्चे को किडनैपर से सकुशल बरामद कर लिया।

पुलिस की ओर से सर्वप्रथम शिकायतकर्ता के घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे का विश्लेषण कर अपहरणकर्ता की फुटेज प्राप्त की गई। सर्विलांस टीम द्वारा नंबरों को सर्विलांस में लिया गया। फोटो मुखबिर तंत्र को देकर सक्रिय किया गया।

गठित पुलिस टीम द्वारा अपहरणकर्ता के मोबाइल नंबर की लोकेशन ट्रेस करते हुए लगातार उसका पीछा किया गया। जिस पर टीम अपहरणकर्ता के पीछे पीछे ऋषिकेश से रायवाला होते हुए हरिद्वार, नजीमाबाद, नगीना से धामपुर पहुंची। जहां थाना प्रभारी धामपुर अपनी टीम के साथ धामपुर तिराहे पर चेकिंग कर रहे थे।

उनको उपरोक्त घटना का विवरण देकर लोकेशन की जानकारी दी गई व संयुक्त रूप से आने जाने वाले वाहनों को चेक करने लगे। जिस पर लगातार लोकेशन ट्रेस करते हुए नगीना की तरफ से आती हुई एक रोडवेज बस को रोककर चेक किया गया तो उसमें मुकदमा उपरोक्त पहनावे का एक बच्चा उम्र 13 वर्ष है, उसके पास बैठा व्यक्ति फोटो से मिलान किया तो राजन उर्फ भोला मिला। जिस पर बच्चे को सकुशल बरामद करते हुए अभियुक्त की गिरफ्तारी की गई।
———————————-

*अपहरणकर्ता का नाम पता*
*******************************
*राजन उर्फ़ भोला पुत्र लल्लन पटेल निवासी गांव सरिया बिर्थी, पोस्ट सरिया बाजार, थाना पहाड़पुर जिला मोतिहारी बिहार*

हाल निवासी- *माया मार्केट श्यामपुर ऋषिकेश*
———————————–
*पूछताछ विवरण*
*******************
पूछताछ में अभियुक्त द्वारा बताया गया कि *मैंने लगभग 1 साल पूर्व शिकायतकर्ता के मकान में कार्य किया था, और मुझे पता था कि इनके पास काफी पैसा है। लॉकडाउन के चलते मेरा कहीं काम नहीं चल रहा था, तो मैंने सोचा कि क्यों न शिकायतकर्ता के बेटे को बहला-फुसलाकर ले जाता हूं, और मैं आज शिकायतकर्ता के नाबालिग पुत्र को गाड़ी दिलाने के बहाने अपने साथ ले आया। मैंने उसके घर फोन करके बताया भी कि मैंने आपके बेटे का अपहरण कर लिया है और मुझे ₹ 15 लाख दो नहीं तो मैं आपके बेटे को जान से मार दूंगा। मैं आज इसको लेकर बस से मुरादाबाद तक जा रहा था। उसके बाद में ट्रेन से आगे जाता परंतु आप लोगों ने मुझे पकड़ लिया।*
———————————–
अपहरणकर्ता को समय से माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया
जाएगा।
———————————–
*पुलिस टीम*
**************
*श्री डीसी ढोडियाल*
(क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश)
*श्री शिशुपाल सिंह नेगी*
प्रभारी निरीक्षक ऋषिकेश)
*श्री ओम शांति भूषण*
(प्रभारी एसओजी देहात)
*श्री मनमोहन सिंह नेगी*
(वरिष्ठ उप निरीक्षक ऋषिकेश)
*श्री शांति प्रसाद चमोली*
(उप निरीक्षक एसओजी देहात)
*श्री राम नरेश शर्मा*
(चौकी प्रभारी श्यामपुर)
*श्री कुलदीप पंत*
(चौकी प्रभारी आईडीपीएल)
उप निरीक्षक शिव प्रसाद डबराल
उप निरीक्षक अरुण त्यागी
*आरक्षी नवनीत नेगी*
(एसओजी देहात)
*आरक्षी कमल जोशी*
(एसओजी देहात)
*आरक्षी नीरज कुमार*
*आरक्षी संदीप छाबड़ी*
*आरक्षी सचिन सैनी*
*आरक्षी गौरव पाठक*
*आरक्षी शीशपाल*
*आरक्षी सचिन राणा*
*आरक्षी अनित कुमार*
*आरक्षी विकास कुमार*
*महिला आरक्षी जमुना नेगी*

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments