39.2 C
Dehradun
Thursday, May 30, 2024
Homeउत्तराखंडदून में होगा बूढ़ी दिवाली 'इगास बग्वाल' का भव्य आयोजन

दून में होगा बूढ़ी दिवाली ‘इगास बग्वाल’ का भव्य आयोजन

 

लोकगीत एवं पारम्परिक व्यंजन होंगे आर्कषण का केन्द्र: कक्कड़

‘ईगास रत्न’ सम्मान से अलंकृत होंगी महान हस्तियां: खंडूरी

देहरादून। उत्कर्ष जन कल्याण सेवा समिति उत्तराखंड के सौजन्य से 4 नवंबर को बूढ़ी दिवाली यानी ईगास बग्वाल का सार्वजनिक आयोजन श्री गुरु नानक ग्राउंड, बन्नू स्कूल के पास रेस कोर्स में किया जाएगा। 

उत्कर्ष जन कल्याण सेवा समिति के संरक्षक भोरेलाल गुप्ता, बाबूराम सहगल, प्रदीप वर्मा, संस्था के अध्यक्ष राजकुमार कक्कड़, महासचिव गौरव खंडूरी एवं कोषाध्यक्ष विनय बंसल ने ईगास बग्वाल कार्यक्रम के आयोजन हेतु आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि उत्तराखंड अपनी विशिष्ट संस्कृति एवं रीति-रिवाजों के लिए जाना जाता है।

आज के तेजी से बदलते वैश्विक परिवेश में यह आवश्यक है कि हम अपनी आने वाली पीढ़ियों को इस सांस्कृतिक विरासत की विशालता एवं व्यापकता के बारे में जानकारी दें और उन्हें अपनी पारंपरिक रीति-रिवाजों, लोक परंपराओं से अवगत कराएं।

इसी दृष्टि से इस वर्ष ईगास बग्वाल का सार्वजनिक आयोजन रेस कोर्स स्थित श्री गुरु नानक ग्राउंड में 4 नवम्बर को अपराहन 4:00 बजे से किया जा रहा है। कार्यक्रम की अध्यक्षता मोहन सिंह रावत गांववासी करेंगे और मुख्य अतिथि के तौर पर भारत सरकार के पर्यटन एवं रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट अति विशिष्ट अतिथि के रूप में उत्तराखंड सरकार के प्रोटोकॉल पशुपालन एवं कौशल विकास मंत्री सौरव बहुगुणा तथा विशिष्ट अतिथियों में धर्मपुर विधायक विनोद चमोली, राजपुर विधायक खजान दास, चकराता विधायक प्रीतम सिंह, तथा देहरादून नगर के महापौर सुनील उनियाल गामा होंगे।

ईगास बग्वाल कार्यक्रम में उत्तराखंड की लोक संस्कृति की झलक गीत एवं संगीत की प्रस्तुती सुप्रसिद्ध लोक गायिका श्रीमती रेखा धस्माना उनियाल, सौरव मैठाणी तथा एलेग्जेंडर के द्वारा किए जाएंगे। ईगास बग्वाल आयोजन समिति के सदस्यों ने इस आयोजन को यादगार एवं ऐतिहासिक बनाने की दृष्टि से विभिन्न प्रकार के स्टॉल भी कार्यक्रम स्थल पर लगवाने की योजना बनाई है।

इन स्टालों में विभिन्न प्रकार की उत्तराखंडी व्यंजन-जायका व खानपान भी उपलब्ध रहेंगे, जिससे दर्शक बग्वाल का पूरी तरह लुप्त ले पायेंगे। उत्कर्ष जन कल्याण सेवा समिति के अध्यक्ष राजकुमार कक्कड़ ने बताया इस अवसर पर पत्रकारिता, सार्वजनिक क्षेत्र, सामाजिक जनकल्याण, चिकित्सा जगत, कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में अद्वितीय, अप्रतिम तथा उल्लेखनीय कार्य करने वाली हस्तियों को ‘ईगास रत्न’ सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।

संस्था के सचिव गौरव खंडूरी ने बताया कार्यक्रम में ईगास बग्वाल के इतिहास तथा उत्तराखंड की विशिष्ट परंपराओं पर विशेषज्ञों द्वारा चर्चा भी की जायेगी तथा अन्त में भेलौ खेल का भी आयोजन होगा। उत्कर्ष जन कल्याण सेवा समिति ने ईगास के इस सार्वजनिक समारोह में सभी राज्य प्रेमियों तथा संस्कृति प्रेमियों को बढ़ चढ़ कर भाग लेने का आमंत्रण दिया। 

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments