33.2 C
Dehradun
Friday, June 21, 2024
Homeअपराधपंखा और रस्सी ..... अरे ' लड़कियों ' मां की डांट को...

पंखा और रस्सी ….. अरे ‘ लड़कियों ‘ मां की डांट को सहना भी तो सीखो, शुकर मनाओ दून पुलिस का

 

 

देहरादून। आज फोन नंबर 112 से पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना मिली कि एक लड़की ने स्वंय को सालावाला स्थित अपने कमरे में बंद करके रखा है तथा पंखे पर लटकी दिख रही है।

इस सूचना पर चौकी प्रभारी हाथीबड़कला मय चीता 41 के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे तो उक्त लड़की ने ख़ुद को दरवाजे की कुंडी लगाकर बंद किया हुआ था।

पुलिस के मुताबिक खिड़की से देखने पर लडकी पंखे पर लटकी हुई दिख रही थी इस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए पुलिस द्वारा कमरे का दरवाजा तोड़कर लड़की को पंखे से रस्सी काटकर नीचे उतारा गया।

उस समय तक लड़की की सांसे चल रही थी इस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए लड़की को चीता कर्मचारीयों की मदद से घर से लिंक रोड पर उठा कर अपने प्राइवेट वाहन से मेन रोड तक लाया गया।

पूर्व में 108 एंबुलेंस को सूचित करने पर दिलाराम चौक के पास 108 एंबुलेंस पहुंची तो तुरंत उपचार हेतु घायल लड़की को एंबुलेंस में शिफ्ट किया गया तथा परिजनों के साथ दून मेडिकल कॉलेज लाया गया। जहां पर लड़की वर्तमान में उपचाराधीन है।

पुलिस के अनुसार लड़की की माता जी से पूछा तो उसकी माता जी ने बताया कि घर की छोटी-छोटी बातों से मैंने उसे डांट दिया था, उसी के कारण नाराज होकर उसने कमरे में जाकर ये सब किया और कोई कारण नहीं बताया। वर्तमान में लड़की का उपचार दून मेडिकल में चल रहा है।

डाक्टरों ने खतरे से बाहर बताया पुलिस द्वारा त्वरित कार्यवाही से एक लड़की की जान बच गई जिसके लिए लड़की के परिजनों ने पुलिस की प्रशंसा एवं धन्यवाद दिया है। 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments