35.6 C
Dehradun
Wednesday, May 22, 2024
Homeउत्तराखंडग्रामीण उद्यमिता को सशक्त करने के लिए ग्राम्य विकास विभाग की अनूठी...

ग्रामीण उद्यमिता को सशक्त करने के लिए ग्राम्य विकास विभाग की अनूठी पहल है : गुल्लक

 

missionnyay.com

ग्रामीण उद्यमिता विकास हेतु ग्राम्य विकास विभाग द्वारा गुल्लक कार्यक्रम का होगा आयोजन

देहरादून। ग्राम्य विकास विभाग, उत्तराखण्ड सरकार की ओर से गत वर्ष रूरल बिजनेस इन्क्यूबेटर्स योजना प्रारम्भ की गई, जिसके तहत दो इयूबेटर क्रमशः कोटद्वार तथा हवालबाग में स्थापित किये गये, जिसमे ग्रामीण उद्यमों को विभिन्न प्रकार की सेवायें जिसमें मुख्यतः व्यावसायिक विकास योजना निर्माण में सहयोग ऋण वित्त पोषण तक पहुँच, तकनीकी प्रशिक्षण, मेंटरशिप, सहायता, कानूनी एवं अनुपालन सम्बन्धी सहायता, बाजार तक पहुँच, विभिन्न सरकारी योजनाओं के साथ केन्द्राभिसरण, डिजिटल मार्केटिंग इत्यादि सेवायें प्रदान की जा रही है। वर्तमान समय में 500 से अधिक इन्क्यूबेटीज इस योजना से उद्यम स्थापना के विभिन्न चरणों में लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

गत वर्ष से इन्क्यूबेटर्स के माध्यम से स्थापित तथा विस्तारित ग्रामीण उद्यमियाँ के कारोबार को अधिकाधिक बढ़ाये जाने के लिये निवेश, तकनीकी सहयोग तथा विपणन सहयोग आदि हेतु गुल्लक नाम से दिनांक 10 जनवरी, 2023 को मुख्य सेवक सदन, मुख्यमंत्री आवास परिसर गढ़ी कैन्ट देहरादून में गुल्लक नामक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।

कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्यमंत्री, उत्तराखण्ड सरकार द्वारा किया जायेगा कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्राम्य विकास मंत्री द्वारा की जायेगी। यह देशभर में पहला ऐसा कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है, जिसमें प्रथम बार निवेशकों द्वारा ग्रामीण उद्यमियों को उनके व्यवसाय से सम्बन्धित क्षेत्रों में निवेश किया जायेगा।

विभाग द्वारा आयोजित किये जाने वाले इस कार्यक्रम में विभिन्न सेक्टरों के लगभग 60 से अधिक ऐसे उद्यमियों को लगभग 15 से 20 निवेशकों के साथ एक ऐसा मंच प्रदान किया जा रहा है जिसमें उद्यमियों द्वारा अपने उद्यम के बारे में निवेशकों के समक्ष ब्यौरा अथवा पिचिंग की जायेगी तथा निवेशकों द्वारा इन उद्यमों में निवेश किया जायेगा।

विभाग द्वारा इस योजना के माध्यम जहां एक ओर ग्रामीण क्षेत्रों में पलायन पर अंकुश लगाने का सार्थक प्रयास किया जा रहा है वहीं दूसरी ओर ग्रामीण युवाओं को सत्त स्वरोजगार के अधिकाधिक अवसर प्रदान किये जाने की दिशा में प्रतिबद्ध है।
……
नितिका खण्डेलवाल, आई0ए0एस0, अपर सचिव ग्राम्य विकास का इस सम्बंध में कहना है कि”राज्य में रूरल बिजनेस इन्क्यूबेटर्स द्वारा ग्रामीण उद्यमों को विभिन्न प्रकार की सेवायें मुख्यतः बिजनेस प्लान तैयार कराने में सहयोग, ऋण वित्त पोषण, तकनीकी प्रशिक्षण, मेंटरशिप सहायता, कानूनी एवं अनुपालन सम्बन्धी सहायता तथा डिजिटल मार्केटिंग आदि में सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

वर्तमान समय में लगभग 500 से अधिक इन्क्यूबेटीज इस योजना से लाभ प्राप्त कर रहे हैं। गुल्लक कार्यक्रम में विभिन्न सेक्टरों के लगभग 60 से अधिक ऐसे उद्यमियों को लगभग 15 से 20 निवेशकों के साथ एक ऐसा मंच प्रदान किया जा रहा है जिसमें उद्यमियों द्वारा अपने उद्यम के बारे में निवेशकों के समक्ष ब्यौरा अथवा पिचिंग की जायेगी तथा निवेशकों द्वारा इन उद्यमों में निवेश किया जायेगा।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments