37.2 C
Dehradun
Tuesday, May 28, 2024
Homeउत्तराखंडसंयुक्त परिवारों में पलने वाले बच्चे होते हैं अधिक स्वस्थ : शांता...

संयुक्त परिवारों में पलने वाले बच्चे होते हैं अधिक स्वस्थ : शांता अक्का

 

missionnyay.com 

– हिंडोलाखाल में हुआ परिवार प्रबोधन कार्यक्रम 

– स्वस्थ परिवारों से ही स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण : डॉ. रक्षा रतूड़ी 

संयुक्त परिवार अच्छे संस्कार की नींव भी माने जाते हैं। संयुक्त परिवारों में पलने-बढ़ने वाले बच्चे एवं परिवार के सदस्य, एकल परिवारों की अपेक्षाकृत स्वस्थ होते हैं। यह विचार देवप्रयाग में हुए परिवार प्रबोधन कार्यक्रम में मुख्य वक्ता ने व्यक्त किए। 

                                                   

राष्ट्र सेविका समिति देवप्रयाग द्वारा हिंडोलाखाल के ब्लॉक कार्यालय के BDC हाल में परिवार प्रबोधन का कार्यक्रम उपजिलाधिकारी कीर्तिनगर देवप्रयाग सोनिया पंत की अध्यक्षता व प्रमुख संचालिका शांता अक्का के मार्ग दर्शन में आयोजित हुआ। 

                                                     

 कार्यक्रम में मुख्य वक्ता शांता अक्का ने सयुंक्त परिवार के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा इसमें कोई दो राय नहीं कि संयुक्त परिवारों में बच्चों की देखरेख अधिक ध्यान से होती है, जिस कारण संयुक्त परिवारों के बच्चे अत्यधिक स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ परिवार समाज एवं राष्ट्र के निर्माण में अहम भूमिका निभाते हैं।

देवप्रयाग की जिला कार्य वाहिका डा. रक्षा रतूड़ी ने बताया कि स्वस्थ परिवारों से ही स्वस्थ समाज का निर्माण होता है। उन्होंने शिविर में आए लोगों का आह्वान किया कि वह स्वयं और अपने आसपास अन्य लोगों को भी स्वस्थ रहने के प्रति हमेशा जागरूक करते रहें। 

इस अवसर पर नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का भी आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 350 लाभार्थियों का नि:शुल्क परीक्षण कर मुफ्त दवाओं का भी वितरण किया और परिवार प्रबोधन में उपस्थित महिलाओं के साथ विभिन्न पहलुओं पर विस्तृत चर्चा भी की गई। 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments