36.2 C
Dehradun
Thursday, May 30, 2024
Homeअपराधलोगों का काम है कहना : राजधानी में दिनभर लाइट गायब रही,...

लोगों का काम है कहना : राजधानी में दिनभर लाइट गायब रही, लोग बोले केजरीवाल की रैली फ्लॉप करने के लिए था षड्यंत्र

 

देहरादून। राजधानी देहरादून में सोमवार की सुबह से लेकर देर शाम तक घंटों बिजली गायब रही। बीच-बीच में एक या दो बार कुछ मिनटों के लिए लाइट आई भी लेकिन फिर चली गई। कई सालों बाद इतने लंबे समय के लिए बिजली जाने की घटना को लेकर लोगों में दिनभर चर्चा होती रही। अधिकांश स्थानों पर लोगों का कहना था कि आज अरविंद केजरीवाल की शहर में रैली है। उसकी रैली सफल ना हो जाए इसको लेकर ही लाइट भगाने की योजना बनाई गई है। अब यह योजना किसने बनाई है किसने नहीं, इस पर कोई साफ-साफ नहीं बोल रहा था। लेकिन चाहे कोई भी घटना हो, लोग तो कुछ कहेंगे ही क्योंकि लोगों का काम है कहना। 

सोमवार की सुबह 6:00 बजे के बाद से ही घंटाघर के आसपास के पूरे इलाकों में लाइट गायब रही। जब बहुत देर तक बिजली नहीं आई तो लोगों ने आसपास के क्षेत्रों में अपने जानकारों को फोन कर मालूम करना शुरू किया। तो पता चला कि अन्य इलाकों में भी सुबह से ही बिजली गायब है। 

शहर के अधिकांश क्षेत्रों में बिजली गायब होने का पता चलने के बाद शुरू हुआ कयास लगाने का सिलसिला। अब तो देर शाम तक यही चलता रहा चाहे वह दुकानें हो बाजार हो या घर कि आज शहर में अरविंद केजरीवाल की रैली है और उसकी रैली को सफल ना होने देने के लिए ही लाइट भगाई गई है। लेकिन कोई भी यह स्पष्ट नहीं बोल रहा था कि लाइट किसने भगाई है। परंतु क्या करें लोग कुछ तो कहेंगे क्योंकि लोगों का काम है कहना। हालांकि देर शाम तक राजधानी में बिजली जाने के स्पष्ट कारण पता नहीं चल पाए थे।  

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments