26.9 C
Dehradun
Sunday, May 26, 2024
Homeअपराधऑनलाइन पैसों की ठगी हो तो ध्यान रखें टोल फ्री नंबर 1930...

ऑनलाइन पैसों की ठगी हो तो ध्यान रखें टोल फ्री नंबर 1930 पर कॉल करनी है, बढ़ जाती है पैसे मिलने की उम्मीद, डीजीपी ने मीडिया कर्मियों के जरिए साइबर क्राइम के प्रति किया सतर्क

 

देहरादून। यदि आपके साथ किसी भी प्रकार की ऑनलाइन ठगी हो जाती है तो घबराइए मत। उत्तराखंड पुलिस की ओर से जारी किए गए टोल फ्री नंबर 1930 पर 24 घंटे किसी भी समय कॉल करके सूचना दे सकते हैं। यदि आप समय पर सूचना दे देते हैं तो आपके लुटे गए पैसों की वापसी मिलने की उम्मीद बढ़ जाती है। 

जी हां, इस बारे में पुलिस मुख्यालय स्थित सभागार में साईबर अपराधों के सम्बन्ध में एक कार्यशाला आयोजित की गई, जिसमें लगभग 50 मीडिया कर्मियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। 

इस कार्यशाला में पुलिस उपाधीक्षक साईबर क्राईम देहरादून अंकुश मिश्रा द्वारा विभिन्न प्रकार के साईबर क्राइम एवं उनसे बचाव के तरीकों की जानकारी दी गयी।

कार्यशाला में बताया गया कि साईबर अपराध क्या होते हैं एवं वे किस धारा के अन्तर्गत आते हैं। इसके बाद विभिन्न साईबर अपराधों पर प्रस्तुतीकरण एवं वीडियो के माध्यम से सभी को जागरूक किया गया।

कार्यशाला में बैंक से सम्बन्धित साईबर अपराध, क्यूआरकोड स्कैम, व्हाट्सएप हैक, ओएलएक्स फ्राड, केवाईसी फ्रॉड, हनी ट्रैपिंग, डुप्लीकेट एप, ऑनलाईन लोन स्कैम, केबीसी फ्रॉड, सोशल मीडिया फ्रॉड, एटीएम फ्रॉड, सेक्सटार्शन, कम्प्यूटर सम्बन्धी फ्रॉड, आदि के सम्बन्ध में एवं उनसे बचने के उपायों के बारे में अवगत कराया गया। इसके अलावा ऑनलाईन सर्च, फेक न्यूज शेयर करने सम्बन्धी सावधानियों के सम्बन्ध में चर्चा की गई।

प्रस्तुतीकरण के पश्चात मीडिया कर्मियों द्वारा साइबर अपराध से सम्बन्धित पूछे गये प्रश्नों का जवाब दिए गए। चर्चा के अन्त में सभी को सम्बोधित करते हुए अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड द्वारा बताया गया कि साईबर अपराधों की प्रकृति के बारे में सभी को जानकारी होनी चाहिए।

परम्परागत साईबर अपराध के स्थान पर नये-नये साईबर अपराध हो रहे है और ऐसी स्थिति में विशेष सावधानी रखने की आवश्यकता है। भविष्य में ऐसी उपयोगी कार्यशालाऐं बडे़ स्तर पर आयोजित की जायेगी।

इसके अलावा किसी भी वित्तीय साईबर फ्राड होने पर 1930 पर कॉल करने हेतु सभी आम नागरिक को जागरूक करने की अपील की गई। कार्यशाला में उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा साईबर अपराधों में अब तक की गई कार्यवाही के सम्बन्ध में भी विस्तृत जानकारी दी गयी।

कार्यशाला में अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस संचार- अमित सिन्हा, अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था-वी मुरूगेशन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एसटीएफ-अजय सिंह, उत्तराखंड पत्रकार यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र कंडारी, महामंत्री हरीश जोशी, उत्तरांचल प्रेस क्लब के अध्यक्ष जितेंद्र अंथवाल, महामंत्री ओपी बेंजवाल आदि कई पत्रकार उपस्थित रहे। 

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments