14.5 C
Dehradun
Monday, November 28, 2022
Home Uncategorized कोरोना : एम्स ऋषिकेश में इलाज कराने मत जाना, 24 जनवरी से...

कोरोना : एम्स ऋषिकेश में इलाज कराने मत जाना, 24 जनवरी से नहीं बनेंगे पर्चे

 

देहरादून । अगर आप ऋषिकेश एम्स में इलाज कराने की सोच रहे हैं तो मत जाइएगा। 24 जनवरी 2022 से वहां पर्चे बनने बंद हो रहे हैं। केवल इमरजेंसी मरीजों को ही लिया जाएगा या जिनका पहले से इलाज चल रहा है उन्हीं को सुविधा मिलेगी। 

कोविड 19 के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए एम्स,ऋषिकेश अस्पताल प्रशासन ने जनरल ओपीडी सुविधाओं को बंद करने का निर्णय लिया है। यह निर्णय 24 जनवरी (सोमवार) से लागू होगा। बताया गया है कि अस्पताल में बढ़ती भीड़भाड़, संक्रमण के चलते यह निर्णय लिया गया है, लिहाजा अब इमरजेंसी मरीजों को छोड़कर अन्य सभी सामान्य स्तर के मरीज टेलिमेडिसिन ओपीडी के माध्यम से देखे जाएंगे। अस्पताल प्रशासन की ओर से इमरजेंसी सेवाएं, ट्रॉमा सेवाएं और रेडियोथेरेपी से संबंधित सेवाओं को निर्बाध रूप से जारी रखा गया है।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश में सोमवार( 24 जनवरी) से जनरल ओपीडी सेवाएं बंद करने का निर्णय लिया गया है। चिकित्सा अधीक्षक कार्यालय की ओर से कोविड संक्रमण के लगातार बढ़ते ग्राफ के मद्देनजर आम मरीजों को सलाह दी गई है कि वह खुद को भी कोविड संक्रमण से बचाते हुए एम्स की टेलिमेडिसिन सेवाओं का लाभ उठाएं। एम्स प्रशासन ने बताया कि अस्पताल में सभी प्रकार की इमरजेंसी सेवाएं पूर्व की भांति 24 घंटे जारी रखी गई हैं। एम्स में कार्यरत स्टाफ को भी शत-प्रतिशत कोविड गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी गई है।

संस्थान के मेडिकल सुपरिटेंडेंट प्रोफेसर अश्वनी कुमार दलाल ने एम्स प्रशासन द्वारा लिए गए निर्णय की जानकारी दी और बताया कि जनरल ओपीडी सेवाएं सोमवार से बंद रहेंगी, जबकि इमरजेंसी सेवाओं को 24 घंटे निर्बाध गति से संचालित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा कैंसर ग्रसित वह मरीज जिनका पहले से इलाज चल रहा है और जिन्हें कीमोथेरेपी तथा रेडियोथेरेपी की आवश्यकता होती है, उनके लिए यह दोनों सेवाएं भी सुचारू रहेंगी।

एमएस प्रोफेसर अश्वनी कुमार दलाल ने बताया कि अनावश्यक परेशानी से बचने के लिए मरीजों को चाहिए कि वह एम्स की टेलिमेडिसिन सेवाओं का लाभ उठाएं और इस सेवा से चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त करें। उन्होंने बताया कि मरीज टेलिमेडिसिन सेवाओं के संपर्क नम्बर निम्न हैं।

टोल फ्री नंबर 1800-180-4278, दूरभाष नंबर 7454989545, 9621539863, 7302895044 । उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को कोविड संक्रमण की गंभीरता समझनी होगी और केन्द्र तथा राज्य सरकारों द्वारा जारी कोविड गाइडलाइनों का पालन सुनिश्चित करना होगा।

 

RELATED ARTICLES

संयुक्त परिवारों में पलने वाले बच्चे होते हैं अधिक स्वस्थ : शांता अक्का

  missionnyay.com  - हिंडोलाखाल में हुआ परिवार प्रबोधन कार्यक्रम  - स्वस्थ परिवारों से ही स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण : डॉ. रक्षा रतूड़ी  संयुक्त परिवार अच्छे संस्कार की नींव...

उत्तराखंड पुलिस कर्मियों की फिटनेस को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी गंभीर, डीजीपी को दिए निर्देश

  missionnyay.com  देहरादून। प्रदेश के पुलिस कर्मियों की फिटनेस और उनके स्वास्थ्य पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का भी ध्यान गया है। उन्होंने इस संबंध में...

होम्योपैथी चिकित्सा शिविर में दी रोगों से बचाव की जानकारी

   निदेशक होम्योपैथी एवं जिला होम्योपैथी  चिकित्साधिकारी, टिहरी गढ़वाल के आदेशानुसार सरस्वती विद्यामंदिर अंजनी सैण (टिहरी गढ़वाल) मे स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया।  शिविर में...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

संयुक्त परिवारों में पलने वाले बच्चे होते हैं अधिक स्वस्थ : शांता अक्का

  missionnyay.com  - हिंडोलाखाल में हुआ परिवार प्रबोधन कार्यक्रम  - स्वस्थ परिवारों से ही स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण : डॉ. रक्षा रतूड़ी  संयुक्त परिवार अच्छे संस्कार की नींव...

उत्तराखंड पुलिस कर्मियों की फिटनेस को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी गंभीर, डीजीपी को दिए निर्देश

  missionnyay.com  देहरादून। प्रदेश के पुलिस कर्मियों की फिटनेस और उनके स्वास्थ्य पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का भी ध्यान गया है। उन्होंने इस संबंध में...

होम्योपैथी चिकित्सा शिविर में दी रोगों से बचाव की जानकारी

   निदेशक होम्योपैथी एवं जिला होम्योपैथी  चिकित्साधिकारी, टिहरी गढ़वाल के आदेशानुसार सरस्वती विद्यामंदिर अंजनी सैण (टिहरी गढ़वाल) मे स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया।  शिविर में...

रिटायर्ड अधिकारियों ने थामा भाजपा का दामन, वरिष्ठ नेता विजय सती बने सूत्रधार

  missionnyay.com  देहरादून। भाजपा के बलवीर रोड स्थित प्रदेश कार्यालय में लगभग 4 दर्जन से अधिक रिटायर्ड अधिकारियों, कर्मचारियों व समाज सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट...

Recent Comments