36.2 C
Dehradun
Thursday, May 30, 2024
Homeअपराधजलते रोम को छोड़ चुनाव की बंसी बजा रहे भारत के नीरो...

जलते रोम को छोड़ चुनाव की बंसी बजा रहे भारत के नीरो : राजीव महर्षि

 

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि ने यूक्रेन में रूस की गोलाबारी में भारतीय छात्र नवीन कुमार की मौत पर गहरा दुःख जताते हुए इस घटना के लिए भारत सरकार को जिम्मेदार ठहराया। 

उन्होंने आरोप लगाया कि भारत के प्रधानमंत्री की प्राथमिकता उत्तर प्रदेश का चुनाव प्रचार है जबकि यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्र सुदेश वापसी के लिए मदद की गुहार लगाते लगाते-लगाते निराश हो गए हैं। 

उन्होंने कहा कि हालिया घटना रोम के नीरो की तरह है कि प्रधानमंत्री मोदी अपने नागरिकों को युद्ध क्षेत्र से सुरक्षित निकालने की कोशिश के ऊपर चुनाव को महत्व दे रहे हैं। 

 महर्षि ने कहा कि चुनाव तो आते-जाते रहेंगे लेकिन भारत के जिन नागरिकों का जीवन इस समय खतरे में है, उनकी जान बचाना इस समय सरकार की प्राथमिकता होनी चाहिए थी लेकिन प्रधानमंत्री को उत्तर प्रदेश की सत्ता ज्यादा जरूरी लग रही है।

कांग्रेस मीडिया प्रभारी ने कहा कि अभी भी समय है, सरकार को इस समय पूरा फोकस यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों की सकुशल वापसी पर होना चाहिए, वरना लोग नीरो को वक़्त आने पर उसकी जगह दिखाने में देर नहीं करते।

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव का महत्व होता है लेकिन युद्ध की स्थिति में नागरिकों का जीवन बचाना चुनाव से ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों के जो वीडियो आ रहे हैं, वह बेहद कष्टदायक हैं, लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने इसे गंभीरता से नहीं लिया।

राजीव महर्षि ने उत्तराखण्ड की धामी सरकार को भी आड़े हाथ लेते हुए कहा कि यह सरकार जिलों से यूक्रेन में फंसे छात्रोंं का विवरण जुटा रही है, जबकि विदेश मन्त्रालय की साईट पर सारा विवरण उपलब्ध रहता है, उन्होंने मांग की कि अभी भी सरकार अपने नागरिकों की सुरक्षित वापसी पर ध्यान केंद्रित करें, वरना लोग इसे कभी माफ़ नहीं करेंगे।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments